Rbse Solutions for Class 10 Science Chapter 16 Management of Natural Resources (Hindi Medium)

Chapter 16. प्राकृतिक संसाधनों का प्रबंधन

पाठगत प्रश्नोत्तर:-

पेज नo. 302 

1. पर्यावरण-मित्र बनने के लिए आप अपनी आदतों में कौन-से परिवर्तन ला सकते हैं?

उत्तर: हम कई तकनीकों से और अधिक पर्यावरण मित्र बन सकते हैं| जैसे- हम तीन ‘R’ जैसे कहावतो पर काम क्र सकते हैं, अर्थात उपयोग कम करना पुनः चक्रण तथा पुनः उपयोग| इन कहावतो को अपनी आदतों में शामिल करके हम और अधिक पर्यावरण मित्र बन सकते हैं|
2. संसाधनों के दोहन के लिए कम अवधि के उद्देश्य के परियोजना के क्या लाभ हो सकते हैं?

उत्तर: इससे यह लाभ हो सकता हैं कि बिना किसी उत्तरदायित्व के अधिक से अधिक मुनाफा प्राप्त किया जा सकता हैं|
3. यह लाभ, लंबी अवधि को ध्यान में रखकर बनाई गई परियोजनाओं के लाभ से किस प्रकार भिन्न हैं।

उत्तर: कम उद्देश्य में परियोजनाओ का एक मात्र लाभ हैं कि संसाधनों का अधिक-से-अधिक दोहन द्वारा हम अधिक-से-अधिक लाभ लाभ प्राप्त करते हैं| इन योजनाओ के तहत भावी पीढ़ियों के लिए हमारा कोई उत्तरदायित्व ध्यान में नहीं होता | दूसरी तरफ, लंबी अवधि की योजनाओ का उद्देश्य संसाधनों का संपोषित विकास के लिए उपयोग करते हुए, आने वाली पीढ़ियों के उपयोग के लिए भीं उन्हें सुरक्षित रखना होता हैं| 
4. क्या आपके विचार में संसाधनों का समान वितरण होना चाहिए? संसाधनों के समान वितरण के विरुद्ध कौन-कौन सी ताकतें कार्य कर सकती हैं?

उत्तर: हमारी धरती सभी के लिए उपलब्ध हैं| सभी प्राणियों का इसके संसाधनों पर समान अधिकार हैं| यदि कोई व्यक्ति इन संसाधनों का अत्यधिक उपयोग कर रहा हैं तो इसका सीधा मतलब हैं कि किसी को इसकी कमी झेलनी पड़ रही होगी| फलतः एक संघर्ष शुरू होता हैं जिससे पर्यावरण को नुकसान पहुचता हैं| 

पेज नo. 306 

1. हमें वन एवं वन्य जीवन का संरक्षण क्यों करना चाहिए?

उत्तर: हमें जैव-विविधता को संरक्षित करने के लिए वनों और वन्य जीवो का संरक्षण करना चाहिए ताकि पारिस्थितिक स्थिरता के नुकसान से बचा जा सके| जंगलो में और उनके आस-पास बड़ी जनसँख्या में जनजाति निवास करती हैं| जंगल और वन्य जीवन के बिना, मनुष्य के लिए जीवन असंभव हो जाएगा|

2. संरक्षण के लिए कुछ उपाय सुझाइए।

उत्तर: वनों के संरक्षण के लिए निम्नलिखित उपाय हैं:- 

(i) लोगो को पेड़ काटने का विरोध करके जंगल को बचने में भागीदारी दिखानी चाहिए| 

(ii) पेड़ो का रोपण बढ़ाना चाहिए|

(iii) जंगल के निवासियों को वन अधिकारीयों द्वारा परेशान नहीं किया जाना चाहिए|

पेज नo. 310 

1. अपने निवास क्षेत्र के आस-पास जल संग्रहण की परंपरागत पद्धति का पता लगाइए।

उत्तर: हमारे क्षेत्र के आसपास जल संग्रहण की परंपरागत पद्धतियों में से एक टैंक हैं|
2. इस पद्धति की पेय जल व्यवस्था (पर्वतीय क्षेत्रों में, मैदानी क्षेत्रा अथवा पठार क्षेत्र ) से तुलना कीजिए।

उत्तर: (i) पहाड़ी क्षेत्र में, कूल्ह, तालाब, आदि का उपयोग जल संचयन के लिए किया जाता हैं| इसमें बारिश के पानी का संग्रह भी शामिल हैं|

(ii) मैदानी इलाको में, जल संचयन संरचनाए गोलाकार या अर्धचंद्राकर मिट्टी के गड्ढे अथवा निचले स्थान, वर्षा ऋतू में पूरी तरह भर जाने वाली नालियाँ/ प्राकृतिक जलमार्ग पर बनाए गए “चैक डेम” जो कंक्रीट अथवा छोटे कंकड़ पत्रों द्वारा बनाए जाते हैं|  
3. अपने क्षेत्र में जल के स्रोत का पता लगाइए। क्या इस स्रोत से प्राप्त जल उस क्षेत्र के सभी निवासियों को उपलब्ध है।

उत्तर: हमारे क्षेत्र में पानी का स्रोत भूजल हैं| इस स्रोत से पानी उस क्षेत्र में रहने वाली सभी लोगो के लिए उपलब्ध हैं|

Chapter 16. प्राकृतिक संसाधनों का प्रबंधन

अभ्यास

पाठ – 16 (प्राकृतिक संसाधनो का प्रबंधन)

प्रश्न 1: अपने घर को पर्यावरण – मित्र बनाने के लिए आप उसमे कौन -कौन परिर्वतन सुझा सकतें हैं?

उत्तर :-

1. कम उपयोग – इसका अर्थ हैं  की आपको कम, से कम वस्तुओं का उपयोग करना चाहिए करना चाहिए ; जैसे – बिजली के पंखे एवचं बल्ब का स्विच बंद कर देना , खराब नल की मरम्मत करना , ताकि जल व्यर्थ टपके आदि |

2. पुन : चक्रण – इसका अर्थ हैं की आपको प्लास्टिक , कागज और धातु की वस्तुओ को कचरे में नही फेकना चाहिए बल्कि उनका उपयोग करना चाहिए | 

3. पुनः उपयोग – यह पुन : चक्रण से भी अच्छा तरीका है क्योंकि उसमे भी कुछ ऊर्जा व्यय होती है |इसमें हम किसी वस्तु का उपयोग बार – बार कर सकते है |

प्रश्न2 : इस अध्याय हमने देखा की जब वन हम वन एवं वन्य जन्तुओं की बात करते हैं तो चार मुख्य दावेदार सामने आते हैं | इनमें से किसे वन उत्पाद प्रबंधन हेतु निर्णय लेने के अधिकार दिए जा सकते हैं आप ऐसा क्यों सोचते हैं ?

उत्तर :- वन एवं वन्य जन्तुओं के चारों दावेदारों में से वन के अन्दर एवं इसकेनिकते रहने वाले स्थानीय लोग सर्वाधिक उपयुक्त हैं , क्योकिं वे सदियों से वनों का उपयोग संपोषित तरीकों से करते चले आ रहे हैं | वे वृक्षों के ऊपर चढ़कर कुछ शाखाएं एवं पत्तियां ही काटते हैं , जिससे समय केव साथं – साथ उनका पुन : पूरण भी होता रहता हैं | इसके अनेक प्रमाण तथा बेकार कहे जाने वाले वन मूल्य 12.5 करोड़ आँका होगा |

प्रश्न3 :- अकेले व्यकित के रूप भिन्न प्राकृतिक उत्पादों की खपत कम करने के लिए किया कर सकते है ?

उत्तर : प्राकृतिकं पदों की खपत कम निम्न तरीको से की जा सकती है-

(1) CFls का प्रयोग कर |

(2) सौर कूकर , सौर जल उष्मक का प्रयोग कर कोयले करोसीन और LPG की बचत की जा सकती हैं |

(3) टपकने वाले नलों की मरम्मत  कर हम पानी की बचत कर सकते हैं |

(4) रेड लाइट , पर कार या एनी वाहनों को बंद करके पेट्रोल / डीजल की बचत की जा सकती हैं |

प्रश्न4 :- अकेले व्यक्ति के रूप में आप निम्न के प्रबंधन में क्या योगदान दे सकते हैं। (a) वन एवं वन्य
जंतु (b) जल संसाधन (c) कोयला एवं पेट्रोलियम?

उत्तर:  (a) वन एवं वन्य जंतु

(i) हमें जंगली जानवरों के अवैध शिकार का विरोध करना चाहिए|

(ii) हमें वन भूमि का उपयोग अपने लिए नहीं करना चाहिए|

(b) जल संसाधन

(i) हमें वर्षा जल के संचयन का प्रयास करना चाहिए|

(ii) ब्रश करते समय या नहाते समय अनावश्यक जल को न बहाए|

(c) कोयला एवं पेट्रोलियम

(i) हमें कोयले का उपयोग ईंधन के रूप में करना बंद करना चाहिए| 

(ii) हमें ऊर्जा के वैकल्पिक स्रोत जैसे कि हाइड्रो ऊर्जा और सौर ऊर्जा का उपयोग करना चाहिए|  
प्रश्न5 :- अकेले व्यक्ति के रूप में आप विभिन्न प्राकृतिक उत्पादों की खपत कम करने के लिए क्या कर
सकते हैं?

उत्तर: प्राकृतिक संसाधन जैसे पानी, जंगल, कोयला और पेट्रोलियम आदि मानव के अस्तित्व के लिए महत्वपूर्ण हैं| निम्नलिखित तरीको से हम इनकी खपत को कम कर सकते हैं:-

(i) हमें वनों की कटाई रोकनी चाहिए|

(ii) हमे पानी की बर्बादी नहीं करनी चाहिए|

(iii) हमें वर्षा जल का संचयन का प्रयास करना चाहिए|

(iv) हमें ऊर्जा के वैकल्पिक स्रोत जैसे कि हाइड्रो ऊर्जा और सौर ऊर्जा का उपयोग करना चाहिए|

प्रश्न6 :- निम्न से संबंधित ऐसे पाँच कार्य लिखिए जो आपने पिछले एक सप्ताह में किए हैं-
(a) अपने प्राकृतिक संसाधनों का संरक्षण।
(b) अपने प्राकृतिक संसाधनों पर दबाव को और बढ़ाया है।

उत्तर: (a) हमारे प्राकृतिक संसाधनों का संरक्षण :-

(i) पेड़ लगाए|

(ii) कचरे को सहीं जगह फेंके|

(iii) वर्षा जल का संचयन किया|

(b) हमारे प्राकृतिक संसाधनों पर दबाव  बढ़ाना :-

(i) गाड़ी धोने के लिए जल की बर्बादी|

(ii) बिजली बचाने पर ध्यान नहीं दिया|

(iii) एस्कलेटर का प्रयोग किया|  
प्रश्न7 :- इस अध्याय में उठाई गई समस्याओं के आधार पर आप अपनी जीवन-शैली में क्या परिवर्तन लाना चाहेंगे जिससे हमारे संसाधनों के संपोषण को प्रोत्साहन मिल सके?

उत्तर: हमारे संसाधनों के उयोग की दिशा में हमे जीवनशैली में निम्नलिखित परिवर्तनों को शामिल करना चाहिए:-

(i)  पेड़ो को काटना कम करे या बंद करे और वृक्षा रोपण करे|

(ii) वर्षा जल संचयन का प्रयास करे|

(iii) उपयोग में न होने पर बिजली के उपकरणों को बंद करे|

(iv) माल ढोने के लिए प्लास्टिक और पॉलीथीन बैग का प्रयोग बंद करे|

(v) सर्दियों के दौरान, हीटर के प्रयोग से बचे|

महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तर

पाठ -16 प्राकृतिक संसाधनों का प्रबंधन 

 (1 अंक वाले अतिरिक्त प्रश्नोत्तर)

1. जल का संदूषित होना किस वर्ग के जीवाणु की उपस्थिति को दर्शाता हैं ?

उत्तर : कोलीफार्म जीवाणु |

2. जैव विविधता किसे कहते हैं ?

उत्तर : जैव विविधता का अर्थ है किसी क्षेत्र में पाए जाने वाली पादपजात और प्राणी जात की विभिन्न स्पीशीज |

3. जीवाश्म इंधनों का विवेकपूर्ण ढंग से उपयोग करना क्यों आवश्यक हैं ?

उत्तर :जीवाश्म इंधनों का विवेकपूर्ण ढंग से उपयोग करना आवश्यक हैं क्योंकि यह सीमित एवं अनविकरणीय हैं तथा इससे प्रदूषण बढ़ता हैं |

4. GAP का पूरा नाम लिखो ? 

उत्तर :गंगा एक्शन प्लान |

5. चिपको आन्दोलन कहा हुआ था ?

उत्तर : चिपको आन्दोलन गढ़वाल के “रैनी” नामक गाँव में हुआ था |

6. “चिपको आन्दोलन” का क्या कारण था ?

उत्तर : चिपको आन्दोलन स्थानीय निवासियों को वनों से अलग करने की नीति का परिणाम था | गाँव के समीप वृक्ष काटने का अधिकार ठेकेदारों को दे दिया गया था , इसीलिए चिपको आन्दोलन हुआ |

7. जैव विविधता के नष्ट होने से क्या प्रभाव हो सकता है ?

उत्तर : जैव विविधता के नष्ट होने पर पारिस्थितिक स्थायित्व नष्ट हो जाता हैं |

8. हिमाचल प्रदेश तथा राजस्थान के जल संग्रहण की एक – एक पारंपरिक व्यवस्था का नाम बताइए ?

उत्तर : हिमाचल प्रदेश – कुल्ह 

 राजस्थान – खादिन 

9. MPN (एम० पी० एन ) से क्या तात्पर्य है ?

उत्तर : MPN = MOST PROBABLE NUMBER : सार्वप्रायिक संख्या |

10. अलवण जलीय पौधे और जंतुओ के जीवन के लिए सबसे अधिक सहायक pH परास क्या हैं ?

उत्तर : 6.5 – 7.5 |

11. एक सफल वन संरक्षण क्रियानीति में क्या शामिल होना चाहिए ?

उत्तर : एक सफल वन संरक्षण क्रियानीति में सभी भौतिक और जैविक संघटकों के संरक्षण के लिए व्यापक कार्यक्रम शामिल होना चाहिए |

12. कोयला तथा पेट्रोलियम के दहन से कौन – कौन सी विषैली गैसें निकलती हैं ?

उत्तर : नाइट्रोज एवं सल्फर के ऑक्साइड तथा कार्बन मोनो ऑक्साइड विषैली गैसें हैं |

13.प्राकृतिक संसाधन किसे कहते है ? 

उत्तर :वे सभी पदार्थ जो हमें प्रकृति से प्राप्त होते है तथा जिनका हम उपयोग करते है प्राकृतिक संसाधन कहलाते है |

14. खनन प्रदुषण किसे कहते है ? 

उत्तर : खनन प्रदुषण इसलिए होता है क्योंकि धातु के निष्कर्षण के साथ बड़ी मात्रा में धातुमल भी निकलता है |

15. जल संभर प्रबंधन क्या है ?

उत्तर : जल संभर प्रबंधन का तात्पर्य है जल एवं मिटटी का संरक्षण करना ताकि जैव मात्रा का उत्पादन में वृद्धि हो सके |

Leave a Comment

Your email address will not be published.

ट्रेन के बीच में ही AC कोच क्यों लगाए जाते हैं? Rbse books for class 1 to 12 hindi medium 2021-22
ट्रेन के बीच में ही AC कोच क्यों लगाए जाते हैं? Rbse books for class 1 to 12 hindi medium 2021-22